Women Military Police: महिला सिपाही का पहला जत्था आर्मी में शामिल हुआ

115 Views

Women Military Police:- दोस्तों, भारतीय सेना में महिलाएं भी बढ़-चढ़कर हिस्सा ले रही। बीते शनिवार को बेंगलुरु के द्रोणाचार्य परेड ग्राउंड में तस्दीक परेड का आयोजन सफलतापूर्वक किया गया और इस परेड के द्वारा भारतीय सेना को महिला मिलिट्री पुलिस का पहला बैच दिया गया। वर्ष 2021 मैं भारतीय सेना में शामिल हुए महिला मिलिट्री पुलिस को भारतीय सेना में शामिल करने के लिए कोरोनावायरस वजह से छोटे स्तर पर परेड का आयोजन किया गया और कोरोनावायरस लागू सभी प्रोटोकॉल का भी पालन किया गया। भारतीय सेना में महिला मिलिट्री पुलिस का पहला बैच शामिल कर लिया गया है। इस भैंस को शामिल करने के लिए महिला पुलिस को 61 सप्ताह की कड़ी ट्रेनिंग के दौर से गुजरना पड़ा। आइए आपको इन महिला पुलिस सिपाहियों के शामिल होने के संदर्भ में कुछ रोचक जानकारियां प्रदान करें।

Women Military Police

कर्नाटक बेंगलुरु को द्रोणाचार्य परेड ग्राउंड में एक छोटे से परेड का आयोजन किया गया जहां पर भारतीय सेना में पहली बार महिला मिलिट्री पुलिस को शामिल किया गया। इस परेड के दौरान आए सभी कमांडेड तथा ऑफिसर काफी गर्व महसूस कर रहे थे और उन्होंने इस पहले बैच के लिए भारतीय सेना और महिला मिलिट्री पुलिस को भी बधाई दी। इस बैच में शामिल होने से पहले भारतीय सेना की महिलाओं को कुछ मुश्किल ट्रेनिंग के दौर से भी गुजरना पड़ा जिसके पश्चात ही उन्हें यह मौका दिया गया। आइए जानते हैं कि उनको किन ट्रेनिंग के दौर से गुजरना पड़ा।

14 महीने की ट्रेनिंग

जैसा कि आप सभी जानते हैं कि किसी भी मुकाम तक पहुंचने के लिए बिना परिश्रम के उसे मंजिल को हासिल नहीं किया जा सकता। कि किसी प्रकार से भारतीय मिलिट्री पुलिस को आर्मी में शामिल होने के लिए 14 महीने अर्थात 61 सप्ताह की एक कठिन ट्रेनिंग के दौर से गुजर ना हुआ। जिसके अंतर्गत उन्हें बेसिक मिलिट्री ट्रेनिंग, पुलिसिंग ड्यूटी और प्रोबेस्ट ट्रेनिंग जैसे अनेक जानकारियां दी गई। ट्रेनिंग के दौरान महिला पुलिस को भी सिंगल कम्युनिकेशन के कोर्स के विषय में भी विस्तार से पढ़ाया गया। इसी कारण से कमांडेड भी इन महिलाओं पर भरोसा जता रहे हैं कि आगे चलकर महिला मिलिट्री पुलिस का यह पहला बैच काफी सफलता प्राप्त करेगा। यह एक ऐतिहासिक कल होने वाला है।

इस पहले बैच में आर्मी को कुल 83 महिला मिलिट्री पुलिस प्राप्त हुई है। जो सीधे तौर पर अब भारतीय सेना में शामिल होकर उनके साथ कार्य कर सकती हैं। आखिर इस ऐतिहासिक पल के दौरान एक छोटे स्तर पर ही परेड का आयोजन क्यों किया गया? आइए इस विषय पर भी थोड़ी चर्चा कर ली जाए।

Women Military Police भर्ती क्या होता है और कौन कौन इसके लिए योग्य हैं ? विस्तार से समझें |

क्यों हुई छोटे स्तर पर महिला मिलिट्री पुलिस के लिए परेड का आयोजन

भारतीय सेना और महिला मिलिट्री पुलिस के लिए इस रोचक और सम्मानित दिवस के लिए उपलक्ष में बेंगलुरु के परेड ग्राउंड में एक छोटे स्तर पर ही परेड का आयोजन इसलिए किया गया क्योंकि पूरे देश में इस समय कोरोनावायरस का प्रकोप बहुत ही अधिक बढ़ा हुआ है। बीते कुछ माह में कर्नाटक के अनेक स्थानों में कोरोना की स्थिति बेहद ही भयावह बनी हुई है और आज के समय में बेंगलुरु एक नया कोरोनावायरस सेंटर बन गया है। इन्हीं सब कारणों से यह फैसला लिया गया कि तहसील परेड को छोटे स्तर पर ही आयोजित किया जाए।

अब इस परेड को जरूर ही छोटा किया गया है किंतु इनमें शामिल महिला मिलिट्री पुलिस का हौसला बेहद ही बढ़ा रहा है और यह एक नए जोश के साथ भारतीय सेना में अपनी सेवा प्रदान करने के लिए तत्पर हैं। कड़ी ट्रेनिंग और कई चुनौतियों को पार करने के पश्चात ही इन महिला पुलिस ओं को यह मौका दिया गया है। इस सेवा को करने के लिए भारतीय महिला मिलिट्री पुलिस मैं कुल 83 महिलाओं को ही शामिल किया गया है।

कैसे शामिल हो महिला मिलिट्री पुलिस में-

दोस्तों, यदि आप भी महिला मिलिट्री पुलिस में शामिल होना चाहते हैं तो प्रत्येक वर्ष महिला मिलिट्री पुलिस लिए आवेदन पत्र भरे जाते हैं। इस आवेदन पत्र को भरने के लिए आपको समय-समय पर महिला मिलिट्री पुलिस के आधिकारिक वेबसाइट पर विजिट करना अनिवार्य है। आइए आपको हम कुछ सामान्य जानकारियां दें जिसके आधार पर आप अपने आप को भारतीय मिलिट्री पुलिस में योग्य बना सकते हैं।

  • आयु सीमा:- उम्मीदवार की आयु 17.5 से 21 वर्ष के मध्य होनी चाहिए।
  • उम्मीदवार की लंबाई:- आवेदन पत्र भारतीय समय महिला उम्मीदवार की ऊंचाई कम से कम 152 सेंटीमीटर हो।
  • शैक्षणिक योग्यता:- महिला उम्मीदवार को न्यूनतम दसवीं पास तथा 45% अंक प्राप्त किए होने चाहिए।
  • चयन की प्रक्रिया:- सबसे पहले आवेदन पत्र को शॉर्टलिस्ट किया जाता है।
  • उसके पश्चात कट ऑफ जारी करके चयनित उम्मीदवारों को फिजिकल टेस्ट के लिए बुलाया जाता है।
  • फिजिकल टेस्ट में उम्मीदवार को 1. 6 किलोमीटर की दौड़, 10 फीट लंबी कूद और 3 फीट ऊंची कूद में उत्तीर्ण होना आवश्यक है।
  • फिजिकल टेस्ट में उत्तीर्ण होने वाले महिला उम्मीदवारों को लिखित परीक्षा के लिए चयनित किया जाता है।
  • लिखित परीक्षा में कट ऑफ प्राप्त करने वाले ही महिला उम्मीदवार महिला मिलिट्री पुलिस में भर्ती होती हैं।

जैसा कि आप सभी जानते हैं कि सेना में कार्य करने का जज्बा सभी महिलाओं एवं पुरुषों में होता है। किंतु यदि आप मिलिट्री पुलिस में है और सेना में शामिल होना चाहते हैं तो आपको डिफेंस से जुड़ी सभी प्रकार की परीक्षाओं के विषय में जानकारी का होना आवश्यक है। डिफेंस की तैयारी तथा डिफेंस से संबंधित सभी प्रकार की जानकारियां प्राप्त करने के लिए आप हमारे साथ बने रहें तथा नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें जिससे आप घर बैठे परीक्षा की तैयारी से संबंधित तथा अन्य जानकारियां प्राप्त कर सकते हैं।

Frequently Asked Questions (FAQs)

1- Women Military Police की कितनी महिलाएं भारतीय सेना में शामिल की गई?

उत्तर:- वूमेंस मिलिट्री पुलिस की कुल 83 महिलाओं को भारतीय सेना में शामिल करके देश के लिए सेवा करने का मौका दिया गया।

2- महिला मिलिट्री पुलिस के सेना में शामिल होने के संदर्भ में कहां पर परेड का आयोजन किया गया?

उत्तर:- महिला मिलिट्री पुलिस के सेना में शामिल होने के संदर्भ में बेंगलुरु के द्रोणाचार्य परेड ग्राउंड में एक छोटे स्तर पर भव्य परेड का आयोजन किया गया।

3- Women Military Police में शामिल होने के लिए क्या योग्यता होनी आवश्यक है?

उत्तर:- महिला मिलिट्री पुलिस में शामिल होने के लिए महिला उम्मीदवार को 152 सेंटीमीटर तथा दसवीं की कक्षा में 45% अंक प्राप्त होना आवश्यक है।

4- महिला मिलिट्री पुलिस को सेना में शामिल होने के लिए क्या करना पड़ा?

उत्तर:- महिला मिलिट्री पुलिस को सेना में शामिल होने के लिए 61 सप्ताह के कठिन ट्रेनिंग में शामिल होना पड़ा। जिसके पश्चात ही उन्हें सेना में शामिल किया गया।

5- ट्रेनिंग के दौरान उन्हें कौन-कौन से जानकारियां दी गई?

उत्तर:- ट्रेनिंग के दौरान महिला मिलिट्री पुलिस को बेसिक मिलिट्री ट्रेनिंग, पुलिसिंग ट्रेनिंग और प्रोवेस्ट ट्रेनिंग जैसी अनेक जानकारियां दी गई।

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •